Skip to content

कलापथक योजना

कलापथक योजना

कलापथक योजना छत्तीसगढ़ राज्य शासन द्वारा योजनाओं के प्रचार प्रसार  की योजना है । इन योजनाओं की सार्थकता तब है जब जन सामान्य इसका लाभ उठा पाएँ ।

जन सामान्य इसका लाभ तभी उठा सकता है जब इसके बारे में उन्हें ज्ञान हो । कई बार जनता को इन योजनाओं के बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं होती अतः वे लाभ उठाने से वंचित रह जाते हैं ।

शासन की विकासोन्मुखी जन कल्याणकारी योजनाओं को प्रदेश के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुंचाने के लिए कलापथक कलाकार  क्षेत्रीय बोली में नाट्य, गीत एवं नृत्य के माध्यम से योजनाओं का प्रचार प्रसार करते हैं ।

कलापथक दलों द्वारा दहेज प्रथा, नशाबंदी, बाल विवाह, छुआछूत उन्मूलन, परिवार कल्याण, निःशक्त सशक्तिकरण, एड्स, मलेरिया, ग्रामीण स्वच्छता तथा अन्य जन कल्याणकारी योजनाओं पर केन्द्रित विभिन्न कार्यक्रम सरलता व रोचकता से प्रस्तुत किये जाते हैं ।

कलापथकों की टीम में अधिकतम 7 लोगों की जरूरत रहती है। इसमें वादन, गायन, अभिनय, नर्तक, संवाद लेखक अनिवार्य होते हैं।

ये सभी सरकार की योजनाओं को सरलता से एक थीम के जरिए प्रस्तुत करते हैं। बीच-बीच में योजना से संबंधित बनाए गए गीत गाए जाते हैं। नाच-गाकर अभिनय करने से लोगों में जुड़ाव होता है।

क्या है कलापथक योजना

कलापथक समाज कल्याण विभाग में सृजित नियमित पद है। पद का वेतनमान अपर डीविजन क्लर्क के अनुरूप या इससे अधिक है। इस पद पर नियुक्त व्यक्ति कलापथक कहलाता है

कलापथक के कार्यक्रम से पूर्व गांव का कोटवार संबंधित तारीख और स्थान की मुनादी करता है। बाद अभिनय, गीत, संगीत व वादन के जरिए गांव में उपस्थित लोगों को शासकीय योजनाओं की संपूर्ण जानकारी रोचक शैली में दी जाती है। मनोरंजन के उद्देश्य से ग्रामीण पूरा कार्यक्रम देखता है और उन्हें योजना की विस्तृत जानकारी भी मिल जाती है।

प्रोजेक्टर, कठपुतली के जरिए भी कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी जाती है।

कलापथक कलाकार हेतु पात्रता 

संगीत में दक्ष उम्मीदवार का कलापथक कलाकार के रूप में नियुक्ति की जाती है जो शासकीय सेवक के रूप में कार्य करता है और शासन द्वारा संचालित योजनाओं का संगीतमय तरीके से प्रचार प्रसार करता है ताकि जन साधारण तक योजनाओं का ज्ञान पहुँच सके ।

कलपथक कलाकार को शासन द्वारा निर्धारित वेतनमान प्रदान किया जाता है ।

कलापथक कलाकार हेतु आवेदन की प्रक्रिया

 शासन द्वारा निर्धारित नियमानुसार, शासन द्वरा निर्धारित पते पर आवेदन करके । 

कलापथक कलाकार हेतु चयन की प्रक्रिया

गायन वादन एवं लेखन में दक्ष उम्मीदवार का चयन नियुक्तिकर्ता अधिकारी द्वारा किया जाता है |

 

साभार : https://sw.cg.gov.in/art-planning-scheme

Leave a Reply

Your email address will not be published.